Welcome Guest

Be Connected



Follow us on Facebook
.
Online: 529

Love Story SMS

1 week ago

Love story
Manzilein Bhi Teri Thi.
Aur Rasta Bhi Tera Tha
Ek Tera Pyaar Paa Lu,
Bas Yahi Sapna Mera Tha.
Mere Sath Rehne Ki Kasam Bhi Teri
Thi.
Fir Akela Chhod Jane Ka Khayal Bhi
Tera Tha.
Haatho Me Hath Lekar
Mujhe Hasaane Ki Soch Bhi Teri Thi.
Meri Aankhon Me Aansu Dene Ka
Silsila Bhi Tera Tha....
Mein Kyu Yaha Tanha Reh Gya?
Mera Dil Sawaal Karta Hai...
Kismat To Teri Thi...
Par Kya Khuda Bhi Tera Tha?

HeartI Like SMS - Like: 61 - SMS Length: 426 - Share - Twitter
2 weeks ago

एक इश्क नगरी की वादी थी,
जहाँ प्यार की नदियाँ बहती थी,

कुछ दिल-वाले भी रहते थे,
जो प्यार की बातेँ करते थे,

जब बहार का मौसम आता था,
और फुल प्यार के खुलते थे,

मस्त-नशीली रोतो मेँ,
प्यार से दो दिल मिलते थे,

एक रोज वो बस्ती बिखर गयी,
और प्यार की बस्ती उजर गयी,

और फिर हर दिल को सौग लगा,
और जीवन भर का रोग लगा,

दीवाने फिरते रहते है,
और हर एक से पुछा करते है,

इकरार किसी से तुम ना करना,
तुम प्यार किसी से ना करना...!♥

HeartI Like SMS - Like: 57 - SMS Length: 1038 - Share - Twitter
3 weeks ago

♣TUM HI HO SANAM♣
मेरे लिए मेरी दुनिया हो तुम,
छु के जो गुजर गये वो हवा हो तुम,

मैने जो माँगी वो दुआ हो तुम,
जो मैने महसुस कि वो अहसास हो तुम,

मेरी नजर की तलाश हो तुम,
मेरी जिन्दगी का करार हो तुम,

मैने जो चाहा वो प्यार हो तुम,
मेरे इन्तजार की राहत हो तुम,

दिल कि चाहत हो तुम,
तुम हो तो है दुनिया मैरी,
कैसे कहुँ के सिर्फ प्यार नही,
मेरी जान हो तुम.....!!
♥ I MISS U DEAR ♥

HeartI Like SMS - Like: 64 - SMS Length: 899 - Share - Twitter
3 weeks ago

Swaal kuch Bhi ho......
Jawab tum hi ho.......
↓↓↓↓
Raasta koi Bhi ho.......
Manzil tum hi ho.....,.
↓↓↓↓ Dukh kitna ho.....
Khushi tum hi ho........
↓↓↓↓
Armaam kitne B ho...
Aarzoo tum hi ho....
↓↓↓↓
Gussa kitna Bhi ho....
Pyaar tum hi ho.........
↓↓↓↓
Khawab kitne Bhi ho....
Usme tum hi ho.....
↓↓↓↓
Bas tum hi ho.....
Meri Aashaqi ab tu hi ho....,,,!

HeartI Like SMS - Like: 87 - SMS Length: 421 - Share - Twitter
advertisements
3 weeks ago

फिर एक सिगरेट जला रहा हुँ
फिर एक तिली बुजा रहा हुँ
:
तेरी नजर मे ये एक गुनाह है
मै तो तेरी यादेँ भुला रहा हुँ
:
समझना मत इसको मेरी आदत
मै तो बस धुआँ ऊडा रहा हुँ
:
ये तेरी यादोँ के सिलसिले हैँ
मै तेरी यादे जला रहा हुँ
:
मै पीकर इतना बहक चुका हुँ
के गम के किस्से सुना रहा हुँ
और पिला रहा हुँ
:
है मेरी आँखेँ तो आज नम
मगर मै सबको हँसा रहा हुँ
:
खोकर अपनी जिन्दगी मेँ
अपने बे-तन्हा प्यार को भुला रहा हुँ
:
एक सिगरेट की शमां के बहाने
मै अपने आप को जला रहा हुँ!

HeartI Like SMS - Like: 55 - SMS Length: 1152 - Share - Twitter
3 weeks ago

मै लफ्जोँ मेँ कुछ भी इजहार नही करता
इसका मतलब ये नहीँ कि मै तुझे प्यार नहीँ करता

चाहता हुँ मै तुझे आज भी पर
तेरी सोच मेँ अपना वक्त बे-कार नहीँ करता

तमाशा ना बन जाये कही मोहब्बत मेरी
इसलिऐ अपने दर्द का नमुदार नहीँ करता

जो कुछ मिला है उसी से खुश हुँ मै
तेरे लिये भगवान से तकरार नहीँ करता

पर कुछ तो बात है तेरी फितर्त मेँ 'ऐ जालिम
वरना मै तुझे चाहने की खता बार-बार नहीँ करता

मै लफ्जोँ मेँ कुछ भी इजहार नही करता
इसका मतलब ये नहीँ कि मै तुझे प्यार नहीँ करता...!

HeartI Like SMS - Like: 32 - SMS Length: 1177 - Share - Twitter
3 weeks ago

[['' मेरी - आशिँकी "]]
~~~~~~~~~~~~~~
सवाल कुछ भी हो...
जवाब तुम ही हो...
- - -
रास्ता कोई भी हो...
मन्जिल तुम ही हो...
- - -
दु:ख कितना भी हो...
खुशी तुम ही हो...
- - -
अरमान कितने भी हो...
आरजु तुम ही हो...
- - -
गुस्सा कितना भी हो...
प्यार तुम ही हो...
- - -
ख्वाब कोई भी हो...
उसमेँ तुम ही हो...
- - -
बस तुम ही हो....
अब मेँरी 'आशिँकी' तुम ही हो...!OR!

HeartI Like SMS - Like: 21 - SMS Length: 750 - Share - Twitter
1 2 3 4 5 Next ›
Page(1/38)
Jump to Page

advertisements

advertisements